बलिउड

Riya’s two petitions to be heard in Supreme Court today, demand for transfer of Mumbai case; Actress said – Being made a scapegoat due to election | रिया की दो याचिकाओं पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, मुंबई केस ट्रांसफर करने की है मांग; अभिनेत्री ने कहा-चुनाव के कारण बनाया जा रहा बलि का बकरा

  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Riya’s Two Petitions To Be Heard In Supreme Court Today, Demand For Transfer Of Mumbai Case; Actress Said Being Made A Scapegoat Due To Election

मुंबई11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

देश की सबसे बड़ी अदालत में सुशांत सिंह राजपूत के केस पर दोपहर बाद सुनवाई संभव है।

  • इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) की टीम ने सोमवार को रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोवित चक्रवर्ती, इनके पिता इन्द्रजीत चक्रवर्ती, मैनेजर श्रुति मोदी से 10 घंटे की कड़ी पूछताछ की
  • सोमवार को रिया ने मीडिया ट्रायल को अनुचित बताते हुए सुप्रीम कोर्ट में नई याचिका दायर की है

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में आज का दिन बेहद महत्वपूर्ण है। उनकी गर्लफ्रेंड और अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। इसमें रिया ने सुशांत के पिता के.के सिंह द्वारा पटना में दर्ज केस को मुंबई ट्रांसफर करने की गुहार लगाई है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट बिहार, महाराष्ट्र, केंद्र सरकार और सुशांत सिंह राजपूत के पिता के दाखिल जवाबों पर फैसला सुनाएगी।

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) की टीम ने सोमवार को रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोवित चक्रवर्ती, इनके पिता इन्द्रजीत चक्रवर्ती, मैनेजर श्रुति मोदी से 10 घंटे की कड़ी पूछताछ की। सोमवार को ही पहली बार सुशांत के रूममेट सिद्धार्थ पिठानी से तकरीबन 6 घंटे की पूछताछ हुई है।

चुनाव के मद्देनजर मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा: रिया
सोमवार को रिया ने मीडिया ट्रायल को अनुचित बताते हुए सुप्रीम कोर्ट में नई याचिका दायर की है। रिया ने शीर्ष अदालत से यह सुनिश्चित करने का भी आग्रह किया कि उसे इस साल के अंत में होने वाले बिहार चुनावों के मद्देनजर राजनीतिक एजेंडे के तहत बलि का बकरा न बनाया जाए। इसमें रिया ने मीडिया ट्रायल को रोकने की गुहार भी लगाई है।

सीबीआई को जांच ट्रांसफर करना गैरकानूनी
याचिका में कहा गया है कि बिहार पुलिस द्वारा सीबीआई को जांच स्थानांतरित करना गैरकानूनी है। हालांकि, याचिकाकर्ता ने दोहराया कि अगर अदालत ने इस मामले को सीबीआई को भेजा, तो भी उसे कोई आपत्ति नहीं है, मगर कानूनी तौर पर अधिकार क्षेत्र मुंबई में अदालतों के पास रहना चाहिए, न कि पटना में।

अन्य अभिनेताओं के मौत पर किसी ने चर्चा भी नहीं की
रिया ने दलील दी कि अभिनेता आशुतोष भाकरे और समीर शर्मा ने भी पिछले 30 दिनों में सुशांत की तरह आत्महत्या कर ली थी, लेकिन इन दोनों मामलों के बारे में मीडिया में कानाफूसी भी नहीं हुई।

मीडिया गवाहों की जांच और जिरह कर रहा
रिया ने यह भी कहा कि मीडिया चैनल सभी गवाहों की जांच और जिरह कर रहे हैं। याचिकाकर्ता को पहले से ही मीडिया द्वारा दोषी ठहराया गया है और सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु में फोल-प्ले की स्थापना की गई है। हलफनामें में कहा गया है कि रिया के अधिकारों का चरम आघात और उनकी निजता का उल्लंघन किया जा रहा है।

0


Source link

Leave a Comment